BAMS Course Details In Hindi | क्या है, कैसे करे, फीस, योग्यता, सिलेबस और कैरियर पूरी जानकारी

BAMS Course Details In Hindi- दोस्तों आज के समय में ऐसे कई सारे छात्र हैं जो डॉक्टर बनना चाहते हैं, ऐसे में सबसे पहला चरण उनके मन में यह होता है, कि एमबीबीएस का कोर्स करें लेकिन उनकी आर्थिक स्थिति सही ना होने के कारण उनका यह सपना अधूरा हो जाता है। ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आप BAMS Course करके भी डॉक्टर बन सकते हो । हालांकि इस कोर्स में एमबीबीएस जितना ट्रेनिंग नहीं मिल पाता। लेकिन बीएएमएस की सैलरी एमबीबीएस जितना ही होती है इस तरीके से आफ बीएएमएस कोर्स के बारे में जान सकते हो।

BAMS Course Details In Hindi
BAMS Course Details In Hindi

अब हम आपको यह बताने वाले है कि BAMS Course Details In Hindi क्या है? BAMS ka full form keya hota hain? बीएएमएस का सिलेबस क्या होता है? bams kaise kare? ऐसे में इन सभी विषयों के बारे में जानकारी पाने के लिए आप हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को शुरू से अंत तक पढ़ना, ताकि आपको हमारा यह लेख पसंद आ सके और आप अपना डॉक्टर बनने का सपना पूरा कर सकें।

BAMS Course Details In Hindi Overview

पाठ्यक्रम का नामBAMS
बीएएमएस का फुल फॉर्मBachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery
पाठ्यक्रम की अवधिकुल 5 साल, एक साल की इंटर्नशिप
पात्रता मापदंडसाइंस स्ट्रीम, पीसीबी कॉम्बिनेशन (फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स) के साथ 12वीं पास
भारत में शीर्ष बीएएमएस कॉलेजGGSIPU, नई दिल्ली
IMS BHU, बनारस
KUHS, त्रिशूर
गवर्नमेंट आयुर्वेद कॉलेज हॉस्पिटल, पटना
छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय, कानपुर
मदन मोहन मालवीय गवर्नमेंट आयुर्वेद विद्यालय, उदयपुर, राजस्थान
ऋषि कुल शासकीय पीजी आयुर्वेद कॉलेज एवं अस्पताल, हरिद्वार
पोदार आयुर्वेद मेडिकल कॉलेज, मुंबई
NIA, महाराष्ट्र
MUHS, महाराष्ट्र

BAMS कोर्स क्या है?

Bams कोर्स का अर्थ बैचलर आफ आयुर्वेद मेडिसिन एंड सर्जरी होता है। अगर आप BAMS का कोर्स कर लेते हो तो ऐसे में आप अपने डॉक्टर बनने का सपना पूरा कर सकते हो । क्योंकि BAMS का कोर्स डॉक्टर बनने के लिए किया जाता है। यह कोर्स करने से आपको आयुष डॉक्टर या आयुर्वेद डॉक्टर के बारे में पूरी जानकारी दी जाती है। इस तरीके से आप इस कोर्स को करके बहुत ही आसानी से डॉक्टर बन सकते हो।

अगर आप यह कोर्स कर लेते हो तो ऐसे में आपको बहुत ही ज्यादा बेनिफिट होता है। क्योंकि इस कोर्स को करने से आप किसी भी बीमारी को जड़ से खत्म कर सकते हो । और आज के समय में ऐसे डॉक्टरों के पास कस्टमर बहुत ही ज्यादा आते है इस तरीके से आप बीएएमएस कोर्स के बारे में समझ सकते हो।

अगर आप इस कोर्स को करना चाहते हो तो, ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स को करने के लिए आपको 12 वीं पास होना होगा और आपको 12वीं में अच्छे मार्क्स भी लाना होगा इस तरीके से आप इस कोर्स के बारे में समझ सकते हो।

ऐसे में आप यह सोच रहे होंगे कि यह कोर्स कितने साल का होता है । ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह कोर्स पूरे 5 साल का होता है। जिसमें 1 वर्ष इंटरशिप भी शामिल होता है इस कोर्स को आप किसी भी कॉलेज से कर सकते हो, जैसे प्राइवेट या गवर्नमेंट इस तरीके से आप इस कोर्स के बारे में समझ सकते हो।

BAMS का फुल फॉर्म क्या है? | BAMS Course Details In Hindi

आपने बीएएमएस कोर्स के बारे में बहुत कुछ जानकारी प्राप्त कर ली है। अब हम बात करेंगे कि बीएएमएस कोर्स का फुल फॉर्म क्या होता है। ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए BAMS कोर्स का फुल फॉर्म नीचे बताया हुआ है। जिसे आप पढ़ कर बहुत ही आसानी से समझ सकते हो।

B = Bachelor

A =Ayurvedic

M = Medicine

S =surgery

BAMS Kitne Year ka Hota Hai? | BAMS Course Details In Hindi

जैसा कि हमने आपको ऊपर यह बता दिया था कि यह कोर्स 5 वर्ष का होता है जिसमें 1 वर्ष में आपको इंटरशिप के बारे में बताया जाता है।

इस कोर्स को करने से आपको आयुर्वेद डॉक्टर के बारे में बहुत कुछ नॉलेज हो जाता है जैसे विज्ञान, विष विज्ञान, शरीर क्रिया विज्ञान, फार्मोकोलॉजी, आंख नाक, कान इत्यादि चीजों के बारे में इस कोर्स में आपको बता दिया जाता है। इस कोर्स को करने से आपको बहुत ही ज्यादा फायदे होते है, इस तरीके से आप इस कोर्स को कर सकते हो।

अगर आप इस कोर्स को कर लेते हो तो, ऐसे में आपको और आयुर्वेद डॉक्टर के बारे में अत्यधिक जानकारी मिल जाती है। और आपको इस कोर्स को पूरा कर लेने के दौरान डिग्री भी दे दी जाती है। इस कोर्स को करके आप लोगों की भलाई कर सकते हो और और खुद का हॉस्पिटल भी खोल सकते हो। इस तरीके से आप इस कोर्स के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हो।

दोस्तों आज के समय में BAMS COURSE की मांग बहुत ही ज्यादा बढ़ रही है ।क्योंकि यह कोर्स एमबीबीएस कोर्स से बहुत ही ज्यादा सस्ता होता है। इस तरीके से आप बीएएमएस कोर्स करके अपने डॉक्टर बनने का सपना पूरा कर सकते हो।

BAMS करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

दोस्तों अगर आप BAMS COURSE करना चाहते हो तो ऐसे में इस कोर्स को करने के लिए कुछ आपके अंदर योग्यता होनी चाहिए, तभी जाकर आप इस कोर्स को कर सकते हो। ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए कुछ इस कोर्स से रिलेटेड जानकारी बताने वाले हैं, जिसे आप पूरा करके बहुत ही आसानी से इस कोर्स को कर सकते हो।

  • इस कोर्स को करने के लिए सबसे पहले आपको 12वीं की पढ़ाई पूरी करनी होगी तभी जाकर आप इस कोर्स को कर सकते हो।
  • इस कोर्स को करने के लिए 12वीं में आपका सब्जेक्ट फिजिक्स केमिस्ट्री और बायो लॉजी होना चाहिए तभी जाकर आप इस कोर्स को कर सकते हो।
  • जैसा कि आप यह जानते हो कि यह कोर्स डॉक्टर बनने के लिए किया जाता है। ऐसे में आपका माइंड बहुत ही तेज गति से काम करना चाहिए और इसी बात को लेकर इस कोर्स को करने के लिए आपका 12वीं में मार्क्स कम से कम साठ पर्सेंट से अधिक होना चाहिए तभी जाकर आप इस कोर्स को कर सकते हो।

BAMS कोर्स की कितनी फीस है?

BAMS Course Details in Hindi Fees- दोस्तों BAMS COURSE की फीस लगभग 15000 से लेकर ₹300000 होती हैं। लेकिन यह फीस आपके कॉलेज के हिसाब से ली जाती है। अगर आप किसी प्राइवेट कॉलेज में BAMS का कोर्स पूरा करते हो तो ऐसे में उस स्थान पर 200000 से लेकर ₹300000 लग सकते हैं। लेकिन आप गवर्नमेंट कॉलेज से BAMS का कोर्स पूरा करते हो तो ऐसे में आपका वहां पर 15000 से लेकर 50,000 रुपए प्रति वर्ष लग सकते हैं। इस तरीके से आप बीएएमएस कोर्स की फीस के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हो।

दोस्तों अगर आप इस कोर्स को पूरा करते हो, तो ऐसे में आप की सरकार आपको अपना कोर्स पूरा करने के लिए स्कॉलरशिप के रूप में कुछ रुपए प्रदान करती है। जोकि आपके लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक होता है ।आप इन पैसों का इस्तेमाल अपने कोर्स को पूरा करने में लगा सकते हो। इस तरीके से आप इस कोर्स के बारे में समझ सकते हो।

BAMS में कोर्स कैसे करें?

अगर आप बीएएमएस कोर्स करना चाहते हो तो, ऐसे में आज से कुछ समय पहले इस कोर्स को करने के लिए कई प्रकार के एग्जाम देने पढ़ते थे लेकिन आज के समय में कुछ अपडेट हो जाने के कारण केवल एक ही एग्जाम देने होते है। और उस एग्जाम का नाम NEET एग्जाम है, अगर आप NEET एग्जाम के बारे में जानते हो तो आप बहुत ही आसानी से इस परीक्षा को पास कर सकते हो।

अगर आप NEET की परीक्षा पास कर लेते हो तो, ऐसे में आपके सामने दो ऑप्शन आ जाते हैं कि आपको किस प्रकार के कॉलेज में नाम लिखा ना है।

अगर आप NEET की एग्जाम में अच्छे अंक लाए हो तो, ऐसे में आप गवर्नमेंट स्कूल में अपना नाम बहुत ही आसानी से लिखवा सकते हो लेकिन NEET की एग्जाम में आपके अंक कम आए हैं। तो आपको एडमिशन करवाने में बहुत ही ज्यादा दिक्कत का सामना करना होगा । ऐसे में आपको प्राइवेट स्कूल में अपना एडमिशन करवाना होगा इस तरीके से आप बीएएमएस कोर्स के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हो।

BAMS का सिलेबस क्या होता है?

दोस्तों बीएएमएस कोर्स पूरे 4 वर्ष का होता है और इन 4 वर्ष में आपको 4 सेमेस्टर पूरा करना होता है। तभी जाकर आप बीएमएस का कोर्स कंप्लीट कर सकते हो। हम उन सेमेस्टर के बारे में नीचे जानकारी देने वाले हैं, कि कौन से साल में कौन से सेमेस्टर को पूरा किया जाता है। ऐसे में आप हमारे द्वारा दी गई जानकारियों को ध्यान से पढ़ें तभी आपको सेमेस्टर के बारे में पूरी जानकारी समझ में आएगी।

Bams first year semester

  • संस्कृत
  • क्रिया शरीर
  • मौलिक सिद्धांत एवं
  • पदार्थ विज्ञान एवं आयुर्वेद इतिहास
  • रचना शरीर

बीएएमएस 2nd ईयर सेमेस्टर

  • चरक संहिता
  • द्रव्य गुण विज्ञान
  • रसशास्त्र
  • रोग निदान

बीएएमएस 3nd ईयर सेमेस्टर

  • चरक संहिता
  • अगदतंत्र
  • कौमारभृत्य परिचय
  • स्वास्थ्यवृत्ता
  • प्रसूति तंत्र एवं स्त्री रोग

बीएएमएस 4 ईयर सेमेस्टर

  • पंचकर्म
  • काया चिकित्सा
  • शल्य तंत्र
  • अनुसाधन पद्धति और चिकित्सा विज्ञान
  • शालाक्य तंत्र

भारत में BAMS का सबसे बेस्ट कॉलेज

अगर आप बीएएमएस कोर्स करना चाहते हो, परंतु आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा कि BAMS COURSE करने के लिए भारत में सबसे बेस्ट कॉलेज कौन से हैं। ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए कुछ स्कूल के नाम देने वाले हैं, जो कि भारत में BAMS कोर्स करने के लिए सबसे बेस्ट माने जाते हैं। ऐसे में आप हमारे द्वारा दी गई जानकारियों को ध्यान से पढ़ें।

Best BAMS Government Colleges in India
  • GGSIPU, नई दिल्ली
  • IMS BHU, बनारस
  • KUHS, त्रिशूर
  • गवर्नमेंट आयुर्वेद कॉलेज हॉस्पिटल, पटना
  • छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय, कानपुर
  • मदन मोहन मालवीय गवर्नमेंट आयुर्वेद विद्यालय, उदयपुर, राजस्थान
  • ऋषि कुल शासकीय पीजी आयुर्वेद कॉलेज एवं अस्पताल, हरिद्वार
  • पोदार आयुर्वेद मेडिकल कॉलेज, मुंबई
  • NIA, महाराष्ट्र
  • MUHS, महाराष्ट्र
Best BAMS Private colleges in India
  • उत्तरांचल आयुर्वेद कॉलेज, देहरादून
  • डॉक्टर पाटिल विश्वविद्यालय, मुंबई
  • DMIMS, महाराष्ट्र
  • श्री गुरु गोविंद सिंह त्रिशताब्दी विश्वविद्यालय, गुडगांव, हरियाणा
  • विदर्भ आयुर्वेद महाविद्यालय, अमरावती, महाराष्ट्र
  • अष्टांग आयुर्वेद महाविद्यालय, पुणे
  • हिमालया आयुर्वेद मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, देहरादून
  • पतंजलि आयुर्वेद कॉलेज, हरिद्वार
  • KG मित्तल आयुर्वेद कॉलेज, मुंबई
  • तिलक आयुर्वेद महाविद्यालय, पुणे
  • JSSAMC, मैसूर

जैसा कि आपने बीएएमएस कोर्स के बारे में बहुत कुछ जानकारी प्राप्त कर ली है। जिसमें आपने यह भी जाना कि आप कौन से विद्यालय में जाकर बीएएमएस कोर्स पूरा कर सकते हो, अब हम बात करेंगे कि बीएएमएस कोर्स पूरा कर लेने के बाद हमें कितनी सैलरी मिलेगी ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए नीचे इस विषय पर जानकारी दी हुई है। जिसका पढ़कर समझ सकते हो।

BAMS करने के बाद कितनी सैलरी मिलेगी

दोस्तों अगर आपने बीएएमएस कोर्स पूरा कर लिया है तो ऐसे में आपको यह जानना बहुत ही जरूरी है बीएएमएस कोर्स पूरा करने के बाद आप को कितनी सैलरी मिलती है। ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बीएएमएस कोर्स कई प्रकार के होते हैं, जिनके बारे में हमने नीचे विस्तार से बताया हुआ कि कौन से पद पर कितनी सैलरी मिलती है। ऐसे में आप हमारे द्वारा दी गई जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

  • आयुर्वेद फिजीशियन मैं सैलरी लगभग 358000 प्रतिवर्ष मिलती है।
  • मेडिकल ऑफिसर सैलरी लगभग ₹498000 प्रति वर्ष मिलती है।
  • लेक्चरर में आपकी सैलरी लगभग ₹300000 प्रतिवर्ष रहती है।
  • आयुर्वेद डॉक्टर में आपकी सैलरी लगभग 1370000 रुपये प्रतिवर्ष हो सकती है।
  • सेल्स रिप्रेजेंटेटिव मैं आपकी सैलरी लगभग ₹286000 प्रतिवर्ष हो सकती है।

इस तरीके से आप बीएएमएस कोर्स में कौन से पद पर कितनी सैलरी मिलती है इस विषय पर पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हो।

यह भी पढ़ें..

BAMS से जुड़ी कुछ प्रश्न

Q. बीएएमएस की 1 साल की फीस कितनी होती है?

बीएएमएस कोर्स में 1 साल की फीस लगभग ₹50000 प्रतिवर्ष हो सकती है।

Q. बीएएमएस में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

बीएएमएस में अत्यधिक प्रकार के सब्जेक्ट होते हैं जिनके बारे में हमने इस लेख में ऊपर विस्तार पूर्वक बताया हुआ है जिसे आप पढ़ कर बहुत ही आसानी से समझ सकते हो।

Q. डॉक्टर की सबसे छोटी डिग्री कौन सी है

डॉक्टर की सबसे छोटी डिग्री बीडीएस, बीएएमएस और बीएचएमएस है।

Q. बीएएमएस कोर्स कितने साल का होता है?

बीएएमएस कोर्स 5 वर्ष का होता है।

निष्कर्ष BAMS Course Details In Hindi

दोस्तों आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आपने BAMS Course Details In Hindi  के बारे में बहुत कुछ जाना जिसमें हमने आपको यह बताया कि बीएएमएस क्या है? BAMS में कितने सिलेबस है? और बीएएमएस का फुल फॉर्म क्या होता है? अगर आपको हमारा BAMS Course Details In Hindi लेख पसंद आता है, तो ऐसे में आप हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें ताकि आप जैसे ही व्यक्ति को इस विषय पर पूरी जानकारी मिल सके।

होमपेज पर जायेयहां क्लिक करें
Join on TelegramJoin Now
Join on WhatsappJoin Now
Rate this post

Telegram group

Leave a Comment